सिवान में घर से बुलाकर रिक्शा चालक की हत्या, परिजनों में कोहराम

सराय ओपी थाना क्षेत्र के इस्माइल शहिद तकिया मोहल्ला से एक बड़ी खबर सामने उभर कर आ रही है की जहां मोहल्ले के ही लोगों ने एक रिक्शा चालक को घर से बुलाकर शहर के गांधी मैदान अवस्थित एक पोखरे में हत्या कर उसकी लाश को फेंक दिया।मृत रिक्शा चालक की पहचान सिकंदर अली 33 वर्ष के रूप में की गई है जो यासीन अली का बेटा बताया जाता है।जो सिवान शहर में रिक्शा चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण करता था।घटना के संबंध में मृतक की मां शमसून खातून ने बताया कि मेरे ही मोहल्ले के मोहम्मद अली साई,वकील साई, बेलाल साई तथा मुफस्सिल थाना क्षेत्र के छोटपुर गांव निवासी ताहिर साई जो हमारे पुत्र सिकंदर अली को घर से बुलाकर ले गए और उसकी हत्या कर साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से उसके शव को गांधी मैदान अवस्थित पोखरे में फेंक दिया।उधर घटना की सूचना मिलते ही नगर थाना की पुलिस गोताखोरों की मदद से शव को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम हेतु सिवान सदर अस्पताल भेज दिया है।

खबर लिखे जाने तक बुधवार की देर रात्रि तक मृतक का शव सिवान सदर अस्पताल में पड़ा हुआ था।नगर थाने की पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू की जा रही थी।उधर हत्या का खुलासा उस समय संभव होना तय माना जा रहा है कि जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट चिकित्सक द्वारा पुलिस को सौंपी जाएगी।वहीं इस घटना को लेकर इस्माइल शहिद तकिया मोहल्ले में तरह-तरह के अटकलों का बाजार गर्म है।लोग जितनी मुंह उतनी बातें कर रहे हैं। उधर परिजनों के मौखिक बयान के आधार पर पुलिस घटना के हरेक बिंदुओं पर अनुसंधान शुरू कर दी है। घटना के बाद से मृतक की पत्नी मुन्नी खातून ,बेटी अलीशा खातून,समेत पूरे परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल हो चुका है।परिजनों के हृदय विदारक चीत्कार से पूरा मोहल्ला में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।अधिकांश परिजन बुधवार की देर रात तक सिवान सदर अस्पताल परिसर में दहाड़ मार बिलख रहे थे।